होम Entertainment अब फिल्म, वेब सीरीज में सेना को दिखाने के लिए रक्षा मंत्रालय...

अब फिल्म, वेब सीरीज में सेना को दिखाने के लिए रक्षा मंत्रालय से लेना होगा NOC

New Delhi: यूं तो भारतीय सेना से जुड़ी फिल्में (Armed Forces in Films & Web Series) दर्शकों को देशभक्ति से लभालभ कर देती हैं, लेकिन कई फिल्में ऐसी भी हैं जिनमें सेना और सेन्य अधिकारीयों को गलत ढंग (Distorted Images of Army in Films & Web Series) से दिखाया गया है।

फिल्मों और वेब सीरीज में भारतीय सेना के अधिकारियों को गलत (Distorted Images of Army in Films & Web Series) तरीके से दिखाए जाने को लेकर रक्षा मंत्रालय ने गंभीरता से लेते हुए कढ़ा फैसला लिया है। अब सेना को दिखाने के लिए रक्षा मंत्रालय से NOC यानी नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट लेना होगा।

अब मंत्रालय ने सेंसर बोर्ड यानी सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (CBFC) और सूचना प्रसारण मंत्रालय को लिखा है कि फिल्म, डॉक्यूमेंट्री या वेब सीरीज में अगर आर्म्ड फोर्सेज को किसी भी तरह से दिखाया जाना है तो पहले रक्षा मंत्रालय से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC) लें।

आर्म्ड फोर्सेज को गलत तरह से दिखाए जाने की कई शिकायतें

हाल के दिनों में फिल्म और वेब सीरीज (Films & Web Series) में भारतीय सेना के अधिकारियों और जवानों का गलत तरीके से चित्रण (Distorted Images of Army in Films & Web Series) करने की कई शिकायतें सामने आई हैं। सूत्रों के मुताबिक रक्षा मंत्रालय को कई शिकायत मिली जिसमें कहा गया कि कई वेब सीरीज में इंडियन आर्मी के लोगों का गलत तरीके से चित्रण किया गया है और साथ ही मिलिट्री यूनिफॉर्म की बेइज्जती की गई है।

कुछ मामलों में पूर्व सैनिकों ने FIR भी दर्ज कराई है

रक्षा मंत्रालय के पास जो शिकायतें आई हैं उनमें वेब सीरीज कोड-एम, एक्स एक्स एक्स अनसेंसर्ड (सीजन-2) भी शामिल हैं। शिकायतों में कहा गया है कि इनमें जिस तरह आर्मी के बारे में जिक्र किया गया है और आर्म्ड फोर्सेस की छवि खराब (Distorted Images of Army in Films & Web Series) करने वाला है। कुछ पूर्व सैनिकों ने तो इसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई है और ओटीटी प्लेटफॉर्म और प्रोड्यूसर पर लीलग ऐक्शन लेने की मांग की है।

…तो रक्षा मंत्रालय से लेनी होगी NOC

अब रक्षा मंत्रालय ने भी औपचारिक तौर पर सूचना और प्रसारण मंत्रालय और सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन को लिखा है कि वह प्रोडक्शन हाउस से कहें कि इंडियन आर्मी थीम से जुड़ी किसी भी फिल्म, डॉक्यूमेंट्री या वेब सीरीज दिखाने से पहले रक्षा मंत्रालय ने नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (एनओसी) लें। साथ ही प्रॉडक्शन हाउस को सलाह देने को कहा गया कि किसी भी ऐसे चित्रण से बचें जिससे डिफेंस फोर्स की गलत छवि प्रस्तुत होती है और सैनिकों की भावनाएं आहत होती हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

कोहली की 183 रनों पारी को गौतम गंभीर ने बताया बेस्ट.. जब PAK गेंदबाजों की उड़ाईं धज्जियां

New Delhi: इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने टीम इंडिया के कप्तान विराट...

अब फिल्म, वेब सीरीज में सेना को दिखाने के लिए रक्षा मंत्रालय से लेना होगा NOC

New Delhi: यूं तो भारतीय सेना से जुड़ी फिल्में (Armed Forces in Films & Web Series) दर्शकों को देशभक्ति से लभालभ कर देती हैं,...

राम मंदिर भूमि पूजनः सामने आने लगे मेहमानों के नाम, देखिए निमंत्रण पत्र

New Delhi: राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन को लेकर अयोध्या में खासा उत्साह है। खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र...

PM मोदी ने अमर सिंह के निधन पर जताया दुख, जानिए BJP के कट्टर विरोधी से वह कैसे बने नमो के मुरीद

New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा सांसद अमर सिंह (Demise of Amar Singh) के निधन पर दुख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा...

Recent Comments